डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे

डेंगू बुखार मच्छरों द्वारा फैलाई जाने वाली बीमारी है डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे एडीज मच्छर (प्रजाति) के काटने से डेंगू वायरस फैलता है  बुखार के दौरान प्लेटलेट्स कम होना इसका मुख्य लक्षण हैं यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता बुखार के साथ सबसे सामान्य लक्षण है सिरदर्द मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द और त्वचा का खराब हो जाना कभी-कभी यह लक्षण फ्लू के साथ मिलकर कंफ्यूज भी कर देते हैं पिछले कुछ सालों में डेंगू के मामले बढ़ते जा रहे हैं

symptoms of dengue and treatment
symptoms of dengue and treatment

डेंगू इंफेक्शन का पता ब्लड टेस्ट के द्वारा लगाया जाता है इससे बचने के लिए कोई स्पेशल दवाई नहीं है लेकिन इस दौरान आपको सही से आराम करने और बहुत सारे पेय पदार्थ पीने की सलाह दी जाती है डेंगू की चपेट में आने के बाद दिल्ली के लोग इससे बचने के लिए कुछ प्राकृतिक नुस्खे अपना रहे हैं हम आपको हेल्थ एक्सपर्ट और डॉक्टर की सलाह से कुछ ऐसे ही घरेलू और प्राकृतिक नुस्खे बता रहे हैं ताकि आप खुद को डेंगू के प्रकोप से बचा सकें

बच्चे नाजुक होते हैं और उनका इम्यून सिस्टम कमजोर होता है इसलिए बीमारी उन्हें जल्दी पकड़ लेती है। ऐसे में उनकी बीमारी को नजरअंदाज न करें।
बच्चे खुले में ज्यादा रहते हैं इसलिए इन्फेक्शन होने और मच्छरों से काटे जाने का खतरा उनमें ज्यादा होता है।

डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे
डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे

बच्चों घर से बाहर पूरे कपड़े पहनाकर भेजें।
मच्छरों के मौसम में बच्चों को निकर व टी – शर्ट न पहनाएं।
रात में मच्छर भगाने की क्रीम लगाएं।
अगर बच्चा बहुत ज्यादा रो रहा हो लगातार सोए जा रहा हो बेचैन हो उसे तेज बुखार हो शरीर पर रैशेज हों उलटी हो या इनमें से कोई भी लक्षण हो तो फौरन डॉक्टर को दिखाएं।

1. तुलसी  (Symptoms of Dengue)
तुलसी के पत्तों को गरम पानी में उबालकर छानकर रोगी को पीने को दें। तुलसी की यह चाय डेंगू रोगी को बेहद आराम पहुंचाती है। यह चाय दिनभर में तीन से चार बार ली जा सकती है।

2. गिलोय
गिलोय का काढ़ा बुखार ( Fever ) जुकाम खाँसी को दूर करने में बहुत उपयोगी है। इसके लिये 3-4 इंच का अंगूठे साइज का एक टुकड़ा लेकर उसे कूट पीस लेते हैं। दो कप पानी में उबालकर आधा कप शेष रहने पर पिलाना बचाव तथा चिकित्सा दोनों में उपयोगी है डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे

3. पपीते की पत्ती
पपीते की पत्तियां डेंगू के बुखाार के लिए सबसे असरकारी दवा कही जाती है। पपीते की पत्तियों में मौजूद पपेन एंजाइम (papain enjymes) शरीर की पाचन शक्ति को ठीक करता है साथ ही शरीर में प्राटीन को घोलने का काम करता है। डेंगू के उपचार के लिए पपीते की पत्तियों का जूस निकाल कर एक एक चम्मच करके रोगी को दें। इस जूस से प्लेटलेट्स की मात्रा तेजी से बढ़ती है। डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे

4. बकरी का दूध
डेंगू बुखार के लिए एक और बुहत प्रभावशाली दवा है बकरी का दूध। बहुत कम होचुकी प्लेटलेट्स को भी बकरी का दूध तुरंत बढ़ाने की क्षमता रखता है। डेंगू के उपचार के लिए रोगी को बकरी का कच्चा दूध थोड़ा-थोड़ा करके पिलाएं इससे प्लेटलेट्स बढ़ेंगे और जोड़ों के दर्द में भी आराम मिलेगा।

5. हल्दी   ( हल्दी के स्वास्थ्य लाभ हिंदी में )
हल्दी यह मेटाबालिज्म बढ़ाने के लिए इस्तेमाल की जाती है यही नहीं घाव को जल्दी ठीक करने में भी मददगार साबित होती है हल्दी को दूध में मिलाकर पीया जा सकता है

6. आँवला
आँवला विटामिन सी ( Vitamin C ) का श्रेष्ठ स्रोत है। आँवला शरीर में जाने पर शरीर लौह तत्व का ज्यादा अवशोषण करता है। जिससे खून बढ़ता है। डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे

7. ऐलोवेरा
ग्वार पाठे का जूस पाचन शक्ति को सही रखता है। लीवर को उत्तेजित करता है। भूख बढ़ाता है। शरीर की रोग प्रतिरोधक बढ़ाकर रोगों से लड़ने की शक्ति जाग्रत करता है डेंगू से बचने केआसान घरेलू नुस्खे

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *